Browse Results

Showing 1 through 25 of 334 results

स्वर्ग बनाम पुनर्जन्म कार्टून आधारित संस्करण: Presented In Honor Of Salo Wittmayer Baron (Studies In Economic History And Policy: Usa In The Twentieth Century Ser. #3)

by Dharma

स्वर्ग गर्भ, बचपन और भूतकाल का रूपक है। यह बचपन के उन खूबसूरत दिनों में वापस लौटने की उत्कंठा है जो पूर्णरूपेण चिंताओं से रहित और जिम्मेदारियों से विमुक्त व्यतीत हुए थे। हमारे परिजन हमारी देखभाल करते थे, हमें सुरक्षा प्रदान करते थे और उनसे हमें भरपूर प्रेम और स्नेह मिलता था। वे हमें भोजन कराते थे, कपड़े पहनाते थे और उनके द्वारा हम जीवन के खतरों से सुरक्षित थे; वस्तुतः हम अपने स्वप्निल संसार में आनंदमग्न थे। वहीं, पुनर्जन्म का अभिप्राय जीवन, वयस्कता और भविष्य से है। हम समय को पीछे नहीं ले जा सकते, हम भूतकाल में नहीं जी सकते। वास्तविक जीवन से भागना समाधान नहीं है। हमें 'घोंसले' से बाहर निकलना होगा और जीवन का सामना करना होगा। 'स्टारवार्स' मूवी में दिखाए गए भविष्य का जीवन एक दिन वास्तविकता होगी किंतु यह सब अपने आप ही नहीं हो जाएगा। इसके लिए हमें काम करना होगा, त्याग करने होंगे और सही चयन करने होंगे ताकि भविष्य के सपनों का संसार साकार हो सके। वे लोग जो आसमान मंे स्थित एक कपोल- कल्पित सेवानिवृत्ति का स्थान (स्वर्ग) चुनने की बजाय पुनर्जन्म अर्थात् वास्तविक जीवन को चुनंेगे, वही भविष्य की दुनिया का आनंद प्राप्त करेंगे। लेखक धर्मा को आपके विचार जानकर प्रसन्नता होगी। आप HeavenVsReincarnation@yahoo.com पर उनसे संपर्क कर सकते हैं।

Aanchal Paravarish Margadarshika - Magazine: आँचल परवरिश मार्गदर्शिका - पत्रिका

by Rahul Mehta

आँचल परवरिश मार्गदर्शिका इस किताब का लेखन राहुल मेहता इन्होने किया है और सृजन फाउंडेशन ने इस किताब का प्रकाशन किया है. इस किताब मे लेखक ने छोटी-छोटी घटनाओं का उपयोग परिचर्चा प्रारंभ करने के लिए किया है. यह न सिर्फ पाठकों को चिंतन के लिए प्रेरित करती है बल्कि अनेक जटिल मुद्दों को सरलता से स्पष्ट करती है. इस मार्गदर्शिका में बच्चों के विभिन्न व्यवहारों को सुधारने के विधियों और सर्वोत्तम प्रथाओं के बारे में उल्लेख है. इसमें बच्चों के परवरिश से संबंधित अनेक विषयों को समाहित किया गया है और इसे एक बहुत ही रोचक और सरल तरीके से प्रस्तुत किया गया है.

Aantrashtriya Kanoon [INTERNATIONAL LAW] M.A. - Kolhan University Chaibasa, Jharkhand: अन्तर्राष्ट्रीय कानून [इंटरनॅशनल लॉ] एम. ए. - कोल्हान विश्वविद्यालय चाईबासा, झारखंड

by Suresh Sinhal

अन्तर्राष्ट्रीय कानून कक्षा एम. ए. यह पुस्तक लक्ष्मी नारायण अग्रवाल ने हिंदी भाषा मे प्रकाशित किया है, इस पाठपुस्तक में दीर्घ, लघु, अति लघु एवं वस्तुनिष्ठ प्रश्नों सहित नवीन परीक्षा प्रणाली को दृष्टि में रखकर प्रश्नों को स्थान दिया गया है और पुस्तक को लिखते समय यह प्रयास किया गया है कि यह पुस्तक विद्यार्थियों के लिए सरल और पूर्णरूपेण उपयोगी बन सके । यह पुस्तक समस्त भारतीय विश्वविद्यालयों के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (U.G.C.) द्वारा निर्धारित नवीन पाठ्यक्रमानुसार तैयार की गई है ।

Aantrashtriya Sangathan M.A. – Kolhan University Chaibasa, Jharkhand: अन्तर्राष्ट्रीय संगठन एम. ए. – कोल्हान विश्वविद्यालय चाईबासा, झारखंड

by Surendra Sinhal

अन्तर्राष्ट्रीय संगठन कक्षा एम. ए. यह पुस्तक लक्ष्मी नारायण अग्रवाल ने हिंदी भाषा मे प्रकाशित किया है, इस पाठपुस्तक में नवीन परीक्षा प्रणाली को दृष्टि में रखकर प्रश्नों को स्थान दिया गया है और पुस्तक को लिखते समय यह प्रयास किया गया है कि यह पुस्तक विद्यार्थियों के लिए सरल और पूर्णरूपेण उपयोगी बन सके । यह पुस्तक विभिन्न विश्वविद्यालयों के राजनीतिशास्त्र के नवीन पाठ्यक्रमानुसार तैयार की गई है ।

Aantrashtriya Sangathan M.A. – Kolhan University Chaibasa, Jharkhand: अन्तर्राष्ट्रीय संगठन एम. ए. – कोल्हान विश्वविद्यालय चाईबासा, झारखंड

by Surendra Sinhal

अन्तर्राष्ट्रीय संगठन कक्षा एम. ए. यह पुस्तक लक्ष्मी नारायण अग्रवाल ने हिंदी भाषा मे प्रकाशित किया है, इस पाठपुस्तक में नवीन परीक्षा प्रणाली को दृष्टि में रखकर प्रश्नों को स्थान दिया गया है और पुस्तक को लिखते समय यह प्रयास किया गया है कि यह पुस्तक विद्यार्थियों के लिए सरल और पूर्णरूपेण उपयोगी बन सके । यह पुस्तक विभिन्न विश्वविद्यालयों के राजनीतिशास्त्र के नवीन पाठ्यक्रमानुसार तैयार की गई है ।

Aaroh Bhag-1 class 11 - S.C.E.R.T Raipur - Chhattisgarh Board: आरोह भाग-1 कक्षा 11 - एस.सी.ई.आर.टी. रायपुर - छत्तीसगढ़ बोर्ड

by Raipur C. G. Rajya Shaikshik Anusandhan Aur Prashikshan Parishad

आरोह भाग-1 कक्षा 11 वी का राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् छत्तीसगढ़ रायपुर ने पुस्तक हिंदी भाषा में प्रकाशित किया गया है । इस पुस्तक में सम्मिलित करने के लिए रचनाकारों / परिजनों / संस्थाओं / प्रकाशनों / पत्रिकाओं से अनुमति मिली है, उनमें कृष्णा सोबती, शेखर जोशी, मन्नू भंडारी, कृष्ण नाथ, त्रिलोचन, निर्मला पुतुल; सत्यजित राय और कृश्नचंदर के लिए राजकमल प्रकाशन; रज़ा के लिए अशोक वाजपेयी; पंत के लिए सुमिता पंत, रामनरेश त्रिपाठी के लिए जयंत कुमार त्रिपाठी; दुष्यंत कुमार के लिए राजेश्वरी त्यागी और पाश के लिए चमनलाल के कृतज्ञ हैं।

Aaroh Bhag-2 Class 12 - S.C.E.R.T Raipur - Chhattisgarh Board: आरोह भाग-2 कक्षा 12 - एस.सी.ई.आर.टी. रायपुर - छत्तीसगढ़ बोर्ड

by Raipur C. G. Rajya Shaikshik Anusandhan Aur Prashikshan Parishad

आरोह भाग-2 कक्षा 12 वी का राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् छत्तीसगढ़ रायपुर ने पुस्तक हिंदी भाषा में प्रकाशित किया गया है । इस पुस्तक में सोच-विचार और विस्मय, छोटे समूहों में बातचीत एवं बहस, और हाथ से की जाने वाली गतिविधियों को प्राथमिकता दि गई है। इस पाठ्यक्रम कि गद्य खंड में आर्थिक चिंतन, दलित विमर्श, स्त्री विमर्श, संस्कृति और विज्ञान, पर्यावरण और प्रकृति, लुप्त प्राय प्राचीन कला, विभाजन की दरार से झाँकते मनुष्य, फ़िल्मी चरित्र में आम आदमी पर केंद्रित रचनाओं को सम्मिलित किया गया है।

Aas Paas III Class 5 - Ncert

by Ncert

This is a Mathematics Hindi Medium Textbook for class 5 Published by Ncert.

Aas_Pass I Class 3 - Ncert

by Ncert

This is an Environmental Science Hindi Medium Textbook for Class 3 published by Ncert.

Aas_Pass II Class 4 - Ncert

by Ncert

This is an Environmental Science Hindi Medium Textbook for class 4 Published by Ncert.

Aazadi Before Marriage - Novel: आजादी बिफोर मैरिज - उपन्यास

by Shri. Dipak Satya

दिपक सत्य लिखित आजादी बिफोर मैरिज इस किताब मे एक प्रेम कहानी के माध्यम से समाज में फैली कुरीतियों एवं विकृतियों को उजागर करने की कोशिश की गई है। पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं के शोषण एवं उनकी दुर्दशा को ऐसे तथ्यों के माध्यम से रेखांकित किया गया है जिसकी तरफ हमारा ध्यान जाता ही नहीं है। यह इस किताब मे लेखक ने समझाया है।

Abhishek Majumdar: Collected Plays (Oberon Modern Playwrights)

by Abhishek Majumdar

The first collection of plays from Indian playwright Abhishek Majumdar, in Hindi.

Adhigam Ke Lie Maargadarshan-1 NES-103 - IGNOU

by Indira Gandhi Rashtriya Mukta Vishvavidyalaya

NES- 103 अधिगम के लिए मार्गदर्शन खंड 1 में मानव जीवन में अधिगम का महत्वपूर्ण स्थान है और इसका योगदान औपचारिक शिक्षा अनुभवो से कही बढकर है। इस खंड में हम उस अधिगम प्रक्रिया पर ध्यान केंद्रित किया है जो घर एवं विघालय में होती है। अधिगम एक सतत प्रक्रिया है तथा इस प्रक्रिया से गुजरते हुए जब बच्चे जटील समस्याओं का सामना करते है, तब उनके अधिगम को सुगम कैसे बनाया जाए इस बारे में विचार किया गया है।

Adhunik Vishva Itihas (1500-2000) For Civil Services (Main) Exams - Ranchi University, N.P.U.

by Hukam Jain Krishn Mature

JPM History of Modern World (Aadhunik Vishwa ka itihas) 1500 se 2000 Tak for Civil Services (Main) Exams. & Other Allied. Tests and University Exams.

Akhand 1: खण्ड 1: आर्थिक समीक्षा 2018-19

by भारत सरकार वित्त मंत्रालय

आरंभ में, हम पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार के नेतृत्व के प्रति आभार व्यक्त करते हैं, जिन्होंने भारत के आर्थिक कैलेंडर में और अधिक प्रत्याशित घटनाचक्र के लिए आर्थिक समीक्षा को उच्चस्तरीय बनाया है। उन्होंने अपनी विद्वता, तपस्या के जरिए अमूल्य योगदान दिया है। और सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण उनकी विचारधारा है जिसे केवल सर आईजक न्यूटन के अनश्वर भावों में ही व्यक्त किया जा सकता है: “यदि मैं औरों की अनदेखी करके, आगे की ओर देखता हूं तो लगता है कि जमीन नहीं आसमान की ओर देखकर चलता हूं” समीक्षा के ऐसे शानदार संकलन को आगे बढ़ाने के लिए बड़ी नम्रता पूर्वक प्रयास किए गए हैं।

Akhand 2: खण्ड 2: आर्थिक समीक्षा 2018-19

by भारत सरकार वित्त मंत्रालय

यह आर्थिक समीक्षा मिलजुल कर किए गए कार्य और परस्पर सहयोग का परिणाम है। आर्थिक प्रभाग से जिन व्यक्तियों का योगदान मिला है, उनमें संजीव सान्याल, सुष्मिता दासगुप्ता, अरूण कुमार झा, अरूण कुमार, राजीव मिश्र, राजश्री रे, ए. सृजा, सुरभि जैन, ए. प्रतिभा, एस. अर्पतास्वामी, निखिला मेनन, अश्विनी लाल, अभिषेक आचार्य, रजनी रंजन, सिंधुमन्निकल थंकप्पन, प्रेरणा जोशी, धर्मेंद्र कुमार, आकांक्षा अरोड़ा, एम. राहुल, रवि रंजन, तुलसीप्रिया राजकुमारी, शमीम आरा, जे.डी. वैशंपायन, आर्य वी.के., अभिषेक आनंद, सोनल रमेश, संजना काद्यान, अमित श्योरन, श्रेया बजाज, सुभाषचंद्र, रियाज़ अहमद खान, मो. आफताब आलम, प्रदयुत कुमार पाईन, नरेंद्र जेना, श्री वत्स कुमार फरीदा, मृत्युंजय कुमार, राजेश शर्मा, अमित कुमार केसरवानी, अर्पिता वायकरे, नवीन वाली, महिमा, अंकुर गुप्ता, लिपि बुद्धिराजा, सोनम गायत्री मल्होत्रा तथा लविशा अरोड़ा शामिल हैं।

Ankho Ki Chamak

by Arvind Gupta

Arvind Gupta, the author, is the winner of the National Award for Science Popularisation amongst children (1988) and the distinguished alumnus award from IIT Kanpur.(2000). Arvind has dedicated his life to teaching science to underprivileged children in rural ares by employing simple stories and toys. Here is one such treasure.

Antra Bhag 1 class 11 - NCERT: अंतरा भाग 1 कक्षा 11 - एनसीईआरटी

by Rashtriy Shaikshik Anusandhan Aur Prashikshan Parishad

अंतरा भाग 1 कक्षा 11 वीं का पुस्तक हिंदी भाषा में राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् ने प्रकाशित किया गया है । यह पाठ्यपुस्तक 11वीं कक्षा में ऐच्छिक हिंदी पढ़नेवाले विद्यार्थियों के लिए तैयार की गई है । इसमें साहित्य की विविध विधाओं संबंधी नौ गद्य रचनाएँ तथा दस कवियों की कविताएँ संकलित हैं । पाठों का चयन इस प्रकार किया गया है कि रचनाओं के माध्यम से हिंदी गद्य और कविता का विकास-क्रम रेखांकित किया जा सके। साथ ही बदलते हुए सामाजिक भावबोध को भी इन रचनाओं के माध्यम से देखा जा सकता है ।

Antral Bhag 1 class 11 - NCERT: अंतराल भाग 1 कक्षा 11 - एनसीईआरटी

by Rashtriy Shaikshik Anusandhan Aur Prashikshan Parishad

अंतराल भाग 1 11वीं कक्षा का राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् ने पुस्तक हिंदी भाषा में प्रकाशित किया गया है, इस पुस्तक में कुल तीन पाठ हैं - मोहन राकेश द्वारा रचित एकांकी ‘अंडे के छिलके’, सुविख्यात चित्रकार मकबूल फ़ि‌दा हुसैन की आत्मकथा ‘हुसैन की कहानी अपनी ज़बानी’ के दो छोटे अंश तथा विष्णु प्रभाकर द्वारा रचित शरतचंद्र के जीवन पर आधारित जीवनी ‘आवारा मसीहा’ का प्रथम पर्व ‘दिशाहारा’। पुस्तक में पाठ के साथ प्रश्न-अभ्यास दिए गए हैं, जो पाठ को रोचक बनाने, उसे स्पष्ट करने में मदद करेंगे। पुस्तक के अंत में रचनाकारों का संक्षिप्त परिचय भी दिया गया है।

Arthashastra B.A (Hons.) Sem-I -Ranchi University, N.P.U

by V. C. Sinha Pushpa Sinha

Arthashastra textbook According to the Latest Syllabus based on the Choice Based Credit System (CBCS) for Sem-I from Ranchi University, Nilambar Pitambar University in Hindi.

Arthashastra (Core Course 1 and Core Course 2) B.A (Hons.) Sem-I -Ranchi University, N.P.U

by J. P. Mishra

Arthashastra text book According to the Latest Syllabus based on Choice Based Credit System (CBCS) for Sem-I (Core Course 1 and Core Course 2) from Ranchi University, Nilambar Pitambar University in hindi.

Arthashastra Me Praranbhik Ganiteey Paddhatiya B.A (Hons.) Sem-II -Ranchi University, N.P.U Part 1

by Jai Mishra

Arthashastra text book According to the Latest Syllabus based on Choice Based Credit System (CBCS) for Sem-II from Ranchi University, Nilambar Pitambar University in hindi.

Arthashastra Me Praranbhik Ganiteey Paddhatiya B.A (Hons.) Sem-II -Ranchi University, N.P.U Part 2

by Jai Mishra

Arthashastra textbook According to the Latest Syllabus based on the Choice Based Credit System (CBCS) for Sem-II from Ranchi University, Nilambar Pitambar University in Hindi.

Arthashastra mein Sankhiki (Chapter 1 to chapter 5) class 11 - S.C.E.R.T Raipur - Chhattisgarh Board: अर्थशास्त्र में सांख्यिकी (अध्याय 1 ते अध्याय 5) कक्षा 11 - एस.सी.ई.आर.टी. रायपुर - छत्तीसगढ़ बोर्ड

by Raipur C. G. Rajya Shaikshik Anusandhan Aur Prashikshan Parishad

अर्थशास्त्र में सांख्यिकी (अध्याय 1 ते अध्याय 5) कक्षा 11 वी का राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् छत्तीसगढ़ रायपुर ने पुस्तक हिंदी भाषा में प्रकाशित किया गया है, इस पाठपुस्तक में 9 अध्याय दिये गये है, जिसमे हर अध्याय के विवरण कि व्याख्या कि गई है ।

Arthashastra mein Sankhiki (Chapter 6 to Last chapter) class 11 - S.C.E.R.T Raipur - Chhattisgarh Board: अर्थशास्त्र में सांख्यिकी (अध्याय 6 ते अंतिम अध्याय) कक्षा 11 - एस.सी.ई.आर.टी. रायपुर - छत्तीसगढ़ बोर्ड

by Raipur C. G. Rajya Shaikshik Anusandhan Aur Prashikshan Parishad

अर्थशास्त्र में सांख्यिकी (अध्याय 6 ते अंतिम अध्याय) कक्षा 11 वी का राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् छत्तीसगढ़ रायपुर ने पुस्तक हिंदी भाषा में प्रकाशित किया गया है, इस पाठपुस्तक में 9 अध्याय दिये गये है, जिसमे हर अध्याय के विवरण कि व्याख्या कि गई है ।

Refine Search

Showing 1 through 25 of 334 results